आकाश का रंग नीला क्यों दिखाई देता है?

आकाश का रंग नीला क्यों दिखाई देता है?

दोंस्तों क्या अपने कभी सोचा है कि हमे आकाश का रंग नीला क्यों दिखाई देता है? वास्तव में आकाश का कोई रंग नही होता फिर भी आकाश हमें नीला दिखाई देता है क्या यह हमारी आखों का धोखा होता है या कोई वैज्ञानिक कारण?

ये भी देखें- नमक खाने बाद प्यास क्यों लगती है?

आकाश के नीले दिखाई देने का कारण?

जैसा कि हम सभी जानते है कि सूर्य का प्रकाश सात रंगों के मेल से बनता है और प्रत्येक रंग की तरंगदैर्ध्य अलग होती है। इस तरंगदैर्ध्य व्यवस्थित क्रम के अनुसार लाल रंग में तरंगदैर्ध्य सबसे अधिक तथा नीले और बैंगनी में तरंगदैर्ध्य कम होती है। इनमे नीला रंग लाल रंग कि अपेक्षा अधिक फैलता है। इस लिए नीला रंग अन्य रंगो की तुलना में ज्यादा दिखाई देता है। इस लिए आकाश का रंग नीला सूर्य के प्रकाश के कम तरंगदैर्ध्य वाले रंग के कारण होता है यदि लाल रंग की तरंगदैर्ध्य कम होती तो हमारा आकाश लाल रंग का होता।