कुषाण वंश का संस्थापक कौन है?

कुषाण वंश का संस्थापक कौन है?

कुषाण वंश का संस्थापक– पल्लवों की शक्ति का अन्त करके भारत में कुषाणों का अगमन हुआ। कुषाणों का संबंध अधिकांश विद्वान वचीन के गोबी क्षेत्र में निवास करने वाली यू-ची जाति से मानते है। कुषाण वंश का संस्थापक कुजुल कडफिसेस को माना जाता है। लेकिन सत्ता की संस्थापना विम कडफिसेस ने की थी। इसी ने ही सबसे पहले भारी मात्रा में सोने के सिक्के जारी किए थे। कनिष्क कुषाण वंश का सबसे प्रतापी शासक था।कनिष्क ने अपने शासन काल में गान्धर, कश्मीर सिन्ध एवं पंजाब पर अपना आधिपत्य स्थापित कर लिया था। कनिष्क ने ही 78 ई में शक सम्वत चलाया था। जो आज भारत सरकार द्वारा प्रयोग में लाया जाता है। प्रसिद्ध पुस्तक कामसूत्र की रचना जो की वात्स्यायन द्वारा की गई थी कुषाण के समय में ही हुई थी। कुषाण काल से ही पक्की ईटों का प्रयोग शुरू हुआ था।

ये भी देखें –

 ✔ हर्ष वर्धन की मृत्यु के बाद सिंहासन पर कौन बैठा?
✔ किरातार्जुनीयम की रचना किसने की थी?
✔ रेशम मार्ग किसे कहते है?
✔ भारत की राष्ट्रीय नदी कौन सी है?

One thought on “कुषाण वंश का संस्थापक कौन है?

Comments closed