भारत में पहली बार ट्रेन कब चली थी?

भारत में पहली बार ट्रेन कब चली थी?

भारत में पहली बार ट्रेन कब चली थी?– भारत रेलवे देश में परिवहन का सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण माध्यम है। भारतीय रेलवे में लगभग तीन-चौथाई लोग यातायात करते है और लगभग 60 प्रतिशत माल ढोने का काम रेल के द्वारा किया जाता है ऐसा इस लिए भी है क्योंकि रेलवे एक सस्ता, तेज और समय की बचत करने वाला साधन है। भारत में रेलमार्गों का निर्माण सबसे पहले 1850 में तत्कालीन वायसराय लार्ड डलहौजी के कार्यकाल में किया गया था।

भारत में पहली बार ट्रेन कब चली थी? 

भारत में पहली बार रेल ट्रेन रूड़की से पीरन कलियार के बीच चलाई गई थी ये ट्रेन सन रंगरेज दिसम्बर 1851 को चलाई गयी थी। यह ट्रेन रड़की में गंगा नहर के निर्माण के लिए मिट्टी को ढोने के लिए चलाई गई थी  यह ट्रेन ढाई किलोमीटर का सफर आधे घण्टे से भी ज्यादा समय में पूरा करती थी। इसके बाद लगभग डेढ़ साल के बाद बंबई से थाणे के बीच यात्री रेल चलाई गई। भारत का रेल तंत्र विश्व का तीसरा सबसे बड़ा तंत्र है। पहले स्थान पर अमेरिका तथा दूसरे स्थान पर रुस है। भारतीय रेलवे सबसे बड़ी कर्मचारी नियुक्त करने वाली संस्था है।

ये भी देखें-

👉 स्वर्णिम चतुर्भुज योजना क्या है? यह योजना कब शुरू हुई थी?
👉 काकोरी लूट कब हुई थी? काकोरी लूट कब और कहां हुई थी?
👉 फोटो बेचकर पैसे कैसे कमाए? Daily 500₹

 

2 thoughts on “भारत में पहली बार ट्रेन कब चली थी?

Comments closed