बच्चों और वयस्क में विटामिन डी की कमी से होने वाली बीमारी के अंतर   ?

विटामिन डी की कमी से होने वाला रोग  ?

विटामिन डी की कमी – हम सभी जानते है कि अस्थियों की सामान्य व्रदि के लिए हमे विटामिन डी की बहुत आवश्यकता होती है। विटामिन डी का मुख्य स्रोत वैसे सूर्य होता है लेकिन बहुत से मानव निर्मित साधन भी है जिससे विटामिन डी की पूर्ति की जा सकती है।

बच्चों में विटामिन डी की कमी से होने वाला रोग ?

यदि हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाए तो शरीर बीमार होने लगता है। इसकी कमी से हमारी अस्थिया कमजोर हो जाती है। जिसे मेडिकल  भाषा में रिकेट्स नाम दिया गया है। रिकेट्स विटामिन डी की कमी के कारण होने वाली एक बीमारी होती है जो बच्चों को प्रभावित करती है।

बच्चों और वयस्क में विटामिन डी की कमी से होने वाली बीमारी के अंतर   ?

यदि बच्चों में किसी कारण से विटामिन डी  कम हो जाए तो इसे रीकेट्स कहा जाता है। लेकिन यहां ध्यान देने वाली बात यह है  कि यदि किसी कारण से किसी वयस्क को हो जाता है तो इस बीमारी को मेडिकल लाइन की भाषा में रिकेट्स नाम से नही पुकारा जाता बल्कि इस को एक अलग नाम से जाना जाता है क्योंकि रिकेट्स शब्द केवल बच्चों में विटमिन डी की कमी के लिए उपयोग होता है

वयस्कों में विटामिन डी की कमी के कारण होने वाले रोग को क्या कहते है?

यदि यह रोग किसी कारण वश  किसी वयस्क व्यक्ति को हो जाए तो इस रोग को मेडिकल लाइन में प्रयोग होने वाली भाषा में ऑस्टियोमैलेसिया  कहा जाता है। जो कि वयस्क लोगों में विटामिन डी की कमी के कारण होने वाला रोग होता है।


Published By Rahul Kumar 

Scroll to Top