हर्याक वंश का संस्थापक कौन था?

हर्याक वंश का संस्थापक कौन था?

हर्याक वंश का संस्थापक बिम्बिसार था। महात्मा बौद्ध के समाकालीन जो बौद्ध के मित्र और इस धर्म के संरक्षक भी थे। बिम्बिसार की राजधानी राजग्रह थी जिसे गिरिव्रज के नाम से जाना जाता था। बिम्बिसार को श्रेणीक की उपाधि प्राप्त थी। अपने राज्य विस्तार के लिए इसने तीन नीतियों का पालन किया इसने कूटनीति, वैवाहिक नीति व युद्ध नीति थी।  वैवाहिक नीति के तहत उसने तीन विवाह किए थे। बिम्बिसार के बाद उसका पुत्र आजातशत्रु शासक बना। आजातशत्रु ने को कुणिक की उपाधि प्राप्त थी। बिम्बिसार की हत्या आजतशत्रु ने कर दी थी। बिम्बिसार हर्यक वंश का संस्थापक था और इस वंश का अन्तिम शासक नागदशक था। इसके बाद मगध की गद्दी पर शिशुनाग वंश ने शासन किय।

ये भी देखें-

✔ कुषाण वंश का संस्थापक कौन है?
✔ हर्ष वर्धन की मृत्यु के बाद सिंहासन पर कौन बैठा?
✔ राजतंगिणी का मतलब क्या है?
✔ जुगनू क्यों चमकते है?

3 thoughts on “हर्याक वंश का संस्थापक कौन था?

Comments closed