बिरसा मुंडा कौन थे?

बिरसा मुंडा कौन थे?

बिरसा मुंडा कौन थे?– बिरसा का जन्म सन 1870 ई में एक मुंडा जनजाति में हुआ था। जब बिरसा मुंडा का जन्म हुआ तब इन आदिवासी लोगों पर बाहरी लोगों का उत्पीड़न बहुत होता था। ये सब बिरसा ने बचपन से ही देखा। बिरसा ने ये सब देख कर ठाना की वह एक ऐसा स्वर्ण युग लाएगा जिसकी मुंडा जाती के लोग अपेक्षा करते है। इस लिए बिरसा ने बड़े होकर एक आन्दोलन चलाया जिसका राजनैतिक उद्देश्य निशनरियों, महाजनों, जमींदारों और सरकार को बाहर खदेड़ कर फिर से मुंडा राज के स्वर्ण युग की स्थापना करना था। लेकिन जब बिरसा ने मोर्चा खोला तो 1895 को बिरसा को अंग्रेजों ने गिरफ्तार कर लिया और बिरसा को दो साल की सजा सुना दी।

बिरसा मुंडा कौन थे?

सन 1897 को बिरसा को रिहा कर दिया गया रिहा होने के बाद बिरसा ने अपना अन्दोलन फिर से शुरू किया। इसके लिए बिरसा ने गांव-गांव जाकर समर्थन माँगना शुरू किया सफेद झण्डा बिरसा का प्रतीक था। लेकिन दुर्भाग्य से इस अन्दोलन को वह गति नहीं मिली जो उसे मिलनी चाहिए थी क्योंकि सन 1900 में हैजा होने के कारण बिरसा की मृत्यु हो गई। लेकिन बिरसा ने दिखा दिया कि आदिवासी लोग कमजोर नहीं।

ये भी देखें- रेडिकल्स कौन थे?